Search This Blog

Wednesday, November 30, 2011

कट्रीना से बहुत आगे है करीना

-अजय ब्रह्मात्मज

अभी भी खबर केवल यह आई है कि रोहित शेट्टी ने शाहरुख खान के साथ के लिए कट्रीना कैफ को अप्रोच किया है।

शाहरुख खान लंबे समय से रोहित शेट्टी को घेर रहे थे कि वे उनके साथ एक फिल्म करें। पहले आइडिया था कि अजय देवगन के साथ अपनी कॉमेडी फिल्मों से मशहूर हुए रोहित शेट्टी उनके लिए एक कॉमेडी फिल्म बनाएंगे। किसी पुरानी मशहूर कॉमेडी फिल्म के रीमेक के बारे में सोचा जा रहा था। इसी बीच अजय देवगन के साथ आई उनकी सिंघम हिट हो गई तो शाहरुख खान ने तय किया कि वे अब रोहित के साथ ऐक्शन फिल्म ही करेंगे। एक्शन हो या कॉमेडी। फिलहाल खबर यह है कि इस फिल्म में कट्रीना कैफ भी होंगी और इस खबर केसाथ स्थापित किया जा रहा है कि कट्रीना अपने प्रतिद्वंद्वी करीना से आगे निकल रही हैं।

सही है कि कट्रीना कैफ लगातार सफल फिल्मों का हिस्सा रही हैं। अपनी खूबसूरती के दम पर उन्होंने एक अलग किस्म का मुकाम हासिल कर लिया है, लेकिन अभिनय की बात करें तो अभी उन्हें प्रूव करना है।

उनकी कोई भी फिल्म इस लिहाज से उल्लेखनीय नहीं है। अपनी सफल फिल्मों में वे नाचती-गाती गुडि़या से अधिक नहीं होतीं। निर्देशक भी उनकी सीमाओं से वाकिफ हैं, इसलिए उनके लिए नाटकीय दृश्य लिखते ही नहीं। वे महज उनकी खूबसूरती और चंचल अदाओं को भुनाते हैं।

फिर भी चर्चा है कि कट्रीना कैफ लोकप्रियता और स्टारडम के मामले में करीना कपूर के लिए चुनौती बन चुकी हैं। जल्दी ही वे नंबर वन के सिंहासन पर होंगी। गौर करें तो यह उनके शुभचिंतक प्रचारक की जल्दबाजी लगती है। कट्रीना कैफ अपनी लोकप्रियता और फिल्मों की सफलता के बावजूद करीना कपूर से मीलों पीछे हैं। अभी उन्हें करीना जैसी उपलब्धियां हासिल करनी हैं।

तीनों खानों के साथ उनके काम करने के उदाहरण से बताया जा रहा है कि कट्रीना आगे निकल रही हैं। क्या याद दिलाने की जरूरत है कि करीना कपूर ने बहुत पहले ही तीनों खानों के साथ फिल्में कर ली हैं। बाकी दो खान (सैफ और इमरान) के साथ भी उनकी फिल्में जल्दी ही आ रही हैं। जल्दबाजी में कट्रीना के समर्थक यह तथ्य भी भूल गए हैं कि फिलहाल चर्चा में आए 100 करोड़ के क्लब में करीना कपूर की चार फिल्में हैं। जिन चार सुपरस्टारों की फिल्म इन क्लब में पहुंची हैं, उनकी एक-एक फिल्म में करीना ही रही हैं। इस लिहाज से वे अकेली ऐसी अभिनेत्री हैं, जिनकी फिल्मों ने 100 करोड़ से अधिक का बिजनेस किया है। अफसोस है कि हिंदी फिल्मों के बिजनेस का चार्ट हीरोइनों के नाम से नहीं तैयार होता।

करीना कपूर अपनी पीढ़ी की अभिनेत्रियों में सबसे सक्षम और सफल हैं। अभिनय के लिहाज से उनकी ओमकारा, चमेली और जब वी मेट का बार-बार नाम लिया जाता है। इस स्तर की एक भी फिल्म कट्रीना के खाते में नहीं है। करीना कपूर घोर कॉमर्शियल फिल्मों में भी अपनी छाप छोड़ती हैं। सिर्फ नाचने-गाने वाली फिल्मों में भी उनका सानी नहीं है। अपनी लापरवाही में वे खुद ही अपने विकास के आड़े आ गई हैं। दरअसल, उनके सामने कोई हीरोइन चुनौती के रूप में खड़ी भी तो नहीं है। किसी जमाने में अमिताभ बच्चन की जो स्थिति थी, लगभग वैसी ही स्थिति में आज करीना कपूर हैं।

मधुर भंडारकर के निर्देशन में आ रही फिल्म हीरोइन से करीना कपूर का दर्जा कुछ और ऊंचा हो जाएगा। बिजनेस और एक्टिंग दोनों ही दृष्टिकोण से हीरोइन करीना की उल्लेखनीय फिल्म होगी। बाकी हीरोइनें अभी हीरोइन बनने का ख्वाब ही देख सकती हैं..

No comments: