Search This Blog

Friday, December 5, 2008

मन में न हो खोट तो क्यों आँख चुराएँ?




टीवी शो बिग बॉस के अंतिम दिन मंच पर शिल्पा शेट्टी के साथ अक्षय कुमार के आने की खबर से मीडिया में उत्सुकता बनी हुई थी। लोग कयास लगा रहे थे कि महज औपचारिकता निभाई जाएगी और दोनों का व्यवहार एक-दूसरे के प्रति ठंडा रहेगा। यहां अक्षय और शिल्पा दोनों की तारीफ करनी होगी कि उन्होंने शो के विजेता को जानने की जिज्ञासा बनाए रखी। अक्षय को मंच पर बुलाते समय शिल्पा की आवाज एक बार लरज गई थी। हो सकता है कि यह उस इवेंट का दबाव हो या संभव है कि पुरानी यादों से गला रुंध गया हो! मौके की नजाकत को भांपते हुए शिल्पा ने फौरन खुद को और कार्यक्रम को संभाला। बाद में दोनों ने चुहलबाजी भी की और इवेंट को रसदार बना दिया।
ऐसा पहली बार नहीं हुआ था कि अंतरंग संबंध जी चुके दो व्यक्ति किसी सार्वजनिक मंच पर साथ आए हों और उन्होंने परस्पर बेरुखी नहीं दिखाई हो! औपचारिकताओं के अधीन दुश्मनों को भी हाथ मिलाते और गले लगाते हम देखते रहते हैं। ग्लैमर व‌र्ल्ड में संबंध बनते-बिगड़ते रहते हैं। कहा तो यही जाता है कि यहां यादों की गांठ नहीं बनती, लेकिन गौर करें, तो संबंध टूटने के बाद फिल्म स्टार पूर्व प्रेमियों, प्रेमिकाओं, पत्नियों और पतियों से बचने की कोशिश भी करते हैं। यहां तक कि आयोजक भी खयाल रखते हैं कि उनका आमना-सामना न हो और न कभी ऐसी स्थिति बने कि उनकी घबराहट, बेरुखी या अकुलाहट लोगों के सामने आ जाए! अक्षय और शिल्पा ने खूबसूरती से रिश्ते और जिम्मेदारी का निर्वाह किया।
पुरानी पीढ़ी की कशमकश
पीछे जाएं, तो दिलीप कुमार-मधुबाला, देव आनंद-सुरैया, राज कपूर-नरगिस, गुरुदत्त-वहीदा रहमान, हेमा मालिनी-जीतेंद्र, अमिताभ बच्चन-रेखा, और महेश भट्ट-परवीन बॉबी सरीखी जोडि़यां अलग होने के बाद एक-दूसरे के प्रति सहज और सामान्य नहीं रह सकीं। सच तो यह है कि आज भी बिग-बी और रेखा के संबंध को लेकर खबरें बनती रहती हैं। आज भी विभिन्न समारोहों में दोनों में से कोई एक मंच पर होता है, तो कैमरा दूसरे की प्रतिक्रिया दिखाने से नहीं चूकता। इन सितारों की अंदरूनी कशमकश जो भी रही हो, लेकिन उन्होंने कभी अपनी रंजिश या कशिश को सार्वजनिक नहीं होने दिया। अब हम आज की उन जोडि़यों पर नजर डालें, जो कभी दंपति बनने वाले थे, लेकिन समय ने ऐसी करवट ली कि वे एक-दूसरे के लिए अजनबी हो गए!
अभिषेक बच्चन-करिश्मा कपूर
फिल्म रिफ्यूजी की हीरोइन करीना कपूर थीं, लेकिन अभिषेक बच्चन का दिल करिश्मा कपूर पर आ गया था। उनकी नजदीकियों को देखते हुए सुनील दर्शन ने फटाफट हां मैंने भी प्यार किया का निर्माण कर डाला। उन्हें उम्मीद थी कि रिअॅल-लाइफ का प्रेम पर्दे पर आग लगा देगा। दूसरी तरफ अमिताभ बच्चन ने अपने साठवें जन्मदिन पर करिश्मा का परिचय अपनी पुत्रवधू के रूप में कराया। सभी मान रहे थे कि जल्दी ही दोनों परिणय-सूत्र में बंधेंगे। कपूर परिवार और बच्चन परिवार में एक और रिश्ता कायम होगा, लेकिन वह रिश्ता टूटा और दोनों अलग हो गए। करिश्मा ने इंडस्ट्री छोड़ दी और दिल्ली के संजय कपूर से शादी कर ली। कुछ वर्ष बाद अभिषेक ने भी ऐश्वर्या राय से शादी कर ली।
सलमान खान-ऐश्वर्या राय
इस जोड़ी को आरंभ से ही बेमेल माना जा रहा था। सलमान खान का उद्धत प्रेम और ऐश्वर्या के सौंदर्य का मेल लोग नहीं बिठा पा रहे थे। हम दिल दे चुके सनम के सेट पर आरंभ हुआ प्रेम चलते चलते के सेट पर टूटा। कहते हैं, सलमान ने अगर ऐश के माता-पिता का अपमान नहीं किया होता, तो शायद ऐश उनके प्रेम के बारे में दोबारा विचार भी करतीं। सलमान की हरकतों का असर ऐश के फिल्मी करियर और निजी जीवन पर पड़ रहा था। संबंध टूटने के बाद सलमान और ऐश एक-दूसरे के सामने आने से बचते हैं। किसी समारोह में ऐश खास मेहमान हों, तो सलमान किनारा कर जाते हैं।
ऐश्वर्या राय-विवेक ओबेराय
उधर सलमान से ऐश की अनबन हुई और इधर विवेक ओबेराय ऐश के प्रबल दोस्त के रूप में सामने आए। विवेक की तरफ से इस दोस्ती का ज्यादा प्रदर्शन हुआ। ऐश ने कभी विरोध जरूर नहीं किया, लेकिन खुलकर इस संबंध को स्वीकार भी नहीं किया। यही कारण है कि इस संबंध केटूटने पर किसी को आश्चर्य नहीं हुआ। कुछ लोगों ने इसे ऐश की व्यवहारिकता और चालाकी कहा, तो कुछ ने विवेक से सहानुभूति जताई। विवेक ने ऐश की मोहाशक्ति में सलमान से जो पंगा लिया था, उसका नुकसान वे आज भी भुगत रहे हैं। उनके पास काम के नाम पर खास कुछ भी नहीं है।
शाहिद कपूर-करीना कपूर
शाहिद कपूर और करीना कपूर की जोड़ी का अलगाव अभी तक रहस्य बना हुआ है। लंबे समय तक दोनों साथ रहने के बाद जब अलग हुए, तो किसी को भी यकीन नहीं हुआ। पहले तो सभी ने यही माना कि फिल्म जब वी मेट और टशन की मिली-जुली पब्लिसिटी हो रही है। जब सैफ अली खान से करीना की नजदीकियां नहीं छिपाई जा सकीं, तो तीनों ने संबंधों के बदले समीकरण को स्वीकार कर लिया। शाहिद ने करीना को लांछित नहीं किया और न करीना ने ही उन पर कोई आरोप लगाए! दो वयस्क व्यक्तियों ने पूरी समझदारी के साथ अलग हो जाने का फैसला किया। आज भी दोनों अपने जीवन में एक-दूसरे के महत्व को रेखांकित जरूर करते हैं।

और भी जोडि़यां हैं, लेकिन उनके प्रेम और अलगाव में ऐसी इंटेनसिटी नहीं दिखती कि उनकी अलग से चर्चा की जाए! डिनो मोरिया-बिपाशा बसु, लारा दत्ता-केली दोर्जी और तनुश्री दत्ता-आदित्य दत्ता भी कभी अंतरंग थे, लेकिन आज वे अलग-अलग कारणों से अलग हैं।

No comments: